Home

शासकीय नवीन कन्या महाविद्यालय को जुलाई २००६ से छत्तीसगढ़ शासन की इक्छा  के अनुरूप प्रारंभ किया गया । यद्दपि जांजगीर एक सांस्कृतिक नगरी है । यहाँ उच्च शिक्षा के प्रावधान बहुत पहले से हैं किन्तु विकास की इस लम्बी यात्रा में यह महसूस किया  गया कि जाँजगीर जिला में एक सर्व सुविधायुक्त सभी विषयों के अध्ययन के लिए एक कन्या महा- विद्यालय की स्थापना की जानी  चाहिए । तदनरूप इस महाविद्यालय ने आकार ग्रहण किया । 

फ़िलहाल कला ,वाणिज्य  एवं विज्ञान तीनो संकायो प्रथम ,  द्वितीय,  तृतीय वर्ष की अध्ययन के साथ साथ भूगोल , संचार इंग्लिश ,माइक्रो बायोलॉजी जैसे नवीन विषयों सहित हम इस क्षेत्र की छात्राओं में उच्च शिक्षा के प्रचार – प्रसार  हेतु  समर्पित होकर अपनी यात्रा प्रारंभ कर चुके हैं ।हमारा महाविद्यालय पूरी तरह से अपने आजर में आ चूका है । पूर्णकालिक अनुभवी प्राचार्य के मार्गदर्शन में महाविद्यालय प्रशासनिक एवं वित्तीय रूप से स्वतंत्र हो चूका है । साथ ही ग्रंथालय में पुस्तकों , खेल सामग्रियों से संमुक्त होकर आत्मनिर्भर हो गया है । नए रोजगारमूलक तथा महत्व के विषयों को शुरू करने के लिए शासन स्तर पर प्रयास जारी है । हमारा पूरा तंत्र इस कोशिश में है कि इस क्षेत्र की छात्राओं का सर्वांगीं विकास के लिए स्वास्थय , शिक्षा गुणवक्ता युक्त रोजगारमुखी उच्चा शिक्षा उपलब्ध कराया जाये ।